ईसाई पैगम्बर अत्यंत चरित्र हीन थे – पार्ट 2

पैगम्बर दाऊद ने ऊरिय्याह की पत्नी से व्यभिचार किया।

2 सांझ के समय दाऊद पलंग पर से उठ कर राजभवन की छत पर टहल रहा था, और छत पर से उसको एक स्त्री, जो अति सुन्दर थी, नहाती हुई देख पड़ी।

3 जब दाऊद ने भेज कर उस स्त्री को पुछवाया, तब किसी ने कहा, क्या यह एलीआम की बेटी, और हित्ती ऊरिय्याह की पत्नी बतशेबा नहीं है?

4 तब दाऊद ने दूत भेज कर उसे बुलवा लिया; और वह दाऊद के पास आई, और वह उसके साथ सोया। ( वह तो ऋतु से शुद्ध हो गई थी ) तब वह अपने घर लौट गई।

5 और वह स्त्री गर्भवती हुई, तब दाऊद के पास कहला भेजा, कि मुझे गर्भ है।
(शमूएल 2 अध्याय 11)

अब दाऊद ने जो व्यभिचार और पाप किया उसे छिपाने को ऊरिय्याह को मरवा डालने की योजना बनाई

14 बिहान को दाऊद ने योआब के नाम पर एक चिट्ठी लिखकर ऊरिय्याह के हाथ से भेजदी।

15 उस चिट्ठी में यह लिखा था, कि सब से घोर युद्ध के साम्हने ऊरिय्याह को रखना, तब उसे छोडकर लौट आओ, कि वह घायल हो कर मर जाए।
(शमूएल 2 अध्याय 11)

अब जब ऊरिय्याह को मरवा डाला जोकि दाऊद की सोची समझी चाल थी –

16 और योआब ने नगर को अच्छी रीति से देख भालकर जिस स्थान में वह जानता था कि वीर हैं, उसी में ऊरिय्याह को ठहरा दिया।

17 तब नगर के पुरुषों ने निकलकर योआब से युद्ध किया, और लोगों में से, अर्थात दाऊद के सेवकों में से कितने खेत आए; और उन में हित्ती ऊरिय्यह भी मर गया।

18 तब योआब ने भेज कर दाऊद को युद्ध का पूरा हाल बताया;
(शमूएल 2 अध्याय 11)

अपनी योजना पूरी हो जाने पर अर्थात दाऊद की कामपिपासा शांत होने की राह का रोड़ा ऊरिय्यह के मर जाने पर फिर ऊरिय्याह की बीवी को अपने घर में डाला

27 और जब उसके विलाप के दिन बीत चुके, तब दाऊद ने उसे बुलवाकर अपने घर में रख लिया, और वह उसकी पत्नी हो गई, और उसके पुत्र उत्पन्न हुआ। परन्तु उस काम से जो दाऊद ने किया था यहोवा क्रोधित हुआ।
(शमूएल 2 अध्याय 11)

ऐसे ऐसे पैगम्बर ईसाइयो में हुए हैं।

अब इन्हे पैगम्बर कौन कहे ?

क्या ये पैगम्बरी के काम थे ?

किसी औरत को नहाते देखना – फिर अपनी काम पिपासा को शांत करने हेतु उस औरत को बुलवा लेना – मौज मस्ती करना – अगर उस औरत का पति राह का रोड़ा बने तो ठिकाने लगवा देना – फिर उस औरत का जमकर उपभोग करना –
भाई फिल्मो में और हालिया जिंदगी में ऐसे काम विलेन करते हैं – यानी खलनायक – यानी बुरे लोग – मगर पुरानी फिल्मो में तो विलेन भी ऐसे नहीं दिखाते थे – कम से कम नारी का सम्मान कुछ तो होता ही था – ये तो पैगम्बर कम – प्रेम चोपड़ा और गुलशन ग्रोवर जैसे लोगो का दादा जरूर लगता है –
आप क्या कहते हो ?

नोट : ऊरिय्याह कौन था ? ये जानना बहुत जरुरी है –

ऊरिय्याह अपने स्वामी दाऊद के प्रति वफादार, कर्तव्यनिष्ठ, सच्चा, ईमानदार और वीर पुरुष था। जो की ऊरिय्याह की दाऊद को बोली इस बात से सिद्ध होता है

7 जब ऊरिय्याह उसके पास आया, तब दाऊद ने उस से योआब और सेना का कुशल क्षेम और युद्ध का हाल पूछा।

8 तब दाऊद ने ऊरिय्याह से कहा, अपने घर जा कर अपने पांव धो। और ऊरिय्याह राजभवन से निकला, और उसके पीछे राजा के पास से कुछ इनाम भेजा गया।

9 परन्तु ऊरिय्याह अपने स्वामी के सब सेवकों के संग राजभवन के द्वार में लेट गया, और अपने घर न गया।

10 जब दाऊद को यह समाचार मिला, कि ऊरिय्याह अपने घर नहीं गया, तब दाऊद ने ऊरिय्याह से कहा, क्या तू यात्रा करके नहीं आया? तो अपने घर क्यों नहीं गया?

11 ऊरिय्याह ने दाऊद से कहा, जब सन्दूक और इस्राएल और यहूदा झोंपडिय़ों में रहते हैं, और मेरा स्वामी योआब और मेरे स्वामी के सेवक खुले मैदान पर डेरे डाले हुए हैं, तो क्या मैं घर जा कर खाऊं, पीऊं, और अपनी पत्नी के साथ सोऊं? तेरे जीवन की शपथ, और तेरे प्राण की शपथ, कि मैं ऐसा काम नहीं करने का।

12 दाऊद ने ऊरिय्याह से कहा, आज यहीं रह, और कल मैं तुझे विदा करूंगा। इसलिये ऊरिय्याह उस दिन और दूसरे दिन भी यरूशलेम में रहा।

देखो ईसाई मित्रो – तुम्हारे बाइबिल में ही तुम्हारे पैगम्बरों के बारे में क्या क्या लिखा है ? फिर भी तुम ऐसे लोगो को श्रेष्ठ पुरुष समझने से बाज़ नहीं आ रहे ?
क्या श्रेष्ठ पुरुष ऐसे ही होते हैं जो :

औरत को नहाते हुए नगनवस्था में देखे ?

अपनी काम पिपासा को शांत भी न कर पाये ?

अपनी कामाग्नि को शांत करने को किसी नारी के साथ व्यभिचार तक कर लेवे ?

और हद्द तो तब हो जाए जब अपनी कामाग्नि से धहकते हुए – उस स्त्री के पति को मारने के लिए चालबाजियां करे ?

धूर्तता से, छल से, कपट से उस वीर को मारे ?

औरत को पाने के लिए चाल चले ?

अपने ही कर्तव्यपरायण, सच्चे, निर्भीक, वफादार, ईमानदार पुरुष को पुरस्कृत करने की बजाये उसे मरवा के उसकी बीवी के साथ रंगरलियां मनाते रहे ?

क्या इसी को ईसाइयत में पैगम्बरी कहते हो ?

और देखो – यहोवा क्रोधित हुआ और दाऊद को क्या कहा –

9 तू ने यहोवा की आज्ञा तुच्छ जान कर क्यों वह काम किया, जो उसकी दृष्टि में बुरा है? हित्ती ऊरिय्याह को तू ने तलवार से घात किया, और उसकी पत्नी को अपनी कर लिया है, और ऊरिय्याह को अम्मोनियों की तलवार से मरवा डाला है।

10 इसलिये अब तलवार तेरे घर से कभी दूर न होगी, क्योंकि तू ने मुझे तुच्छ जानकर हित्ती ऊरिय्याह की पत्नी को अपनी पत्नी कर लिया है।

11 यहोवा यों कहता है, कि सुन, मैं तेरे घर में से विपत्ति उठा कर तुझ पर डालूंगा; और तेरी पत्नियों को तेरे साम्हने ले कर दूसरे को दूंगा, और वह दिन दुपहरी में तेरी पत्नियों से कुकर्म करेगा।

12 तू ने तो वह काम छिपाकर किया; पर मैं यह काम सब इस्राएलियों के साम्हने दिन दुपहरी कराऊंगा।

13 तब दाऊद ने नातान से कहा, मैं ने यहोवा के विरुद्ध पाप किया है। नातान ने दाऊद से कहा, यहोवा ने तेरे पाप को दूर किया है; तू न मरेगा।

14 तौभी तू ने जो इस काम के द्वारा यहोवा के शत्रुओं को तिरस्कार करने का बड़ा अवसर दिया है, इस कारण तेरा जो बेटा उत्पन्न हुआ है वह अवश्य ही मरेगा।
(शमूएल 2 अध्याय 12)

अब बताओ – ये इनके ईश्वर यहोवा का इन्साफ है – मतलब की एक व्यक्ति ने अगर किसी महिला का बलात्कार किया = तो उसकी सजा बलात्कारी की बहन को बलात्कार करके दी जाए –

वाह रे वाह धन्य हो ईसाइयो –

क्या महिला की कोई इज्जत नहीं होती ?

और वो जो बच्चा पैदा हुआ – उसमे उसकी क्या गलती थी ? उस बच्चे को क्यों मार ? मारना तो दाऊद को था –

क्या ये इन्साफ है ?

तो नाइंसाफी किसे कहे ?

कृपया सत्य को समझे –

ज्ञान और विज्ञानं की और लौटे

न्याय और धर्म की और लौटे

सत्य की और लौटे

आओ लौट चलो वेदो की ओर

नमस्ते

4 thoughts on “ईसाई पैगम्बर अत्यंत चरित्र हीन थे – पार्ट 2”

  1. APNE JO LIKHA HAI, KI ISAAI PAIGHAMBER ATANTYA CHARITRA HEEN THEA. THICK HAI HAM YE MANTE HAI KI YE SAB LOG VAISE HI THEA JAISE AAP NE KAHA ISLIYE NAHI MANTE AAPNE KAHA PAR ISLIYE MANTE HAI KYON KI YE BIBLE ME LIKHA HAI. KYON JI PAVITRA SHASTRA HOLY BIBLE HI HAMARA ANTIM SATYA HAI. AB YE SAARE KE SAARE ISAAI JAROOR HAI. AB YE SAARE KE SAARE MANUSHYA PRANI JARROR HAI HAMARE JAISE HI. HAM SHURUVAT SE HE PAAP KARTE AYE HAI . ISME KOI BADI BAAT NAHI HAI. HAMNHE KAHI BAAR SUNA HAI PADHA HAI KI MANUSHA PAAPI HAI PAVITRA SIRF PARAM ISHWAR HAI. AB YE SAARE JAN KING DAVID AUR BHI DOOSRE TISRE SABHI JAN PAAPI THEA .HAM MANTE HAI UNHONE PAAP KIYA THA. UNHONE GHAT KIYA THA. UNHONE DHOKHADADI KI THI. LEKIN UNKE PAAS KUCH AISA THA JO SAB SE ATI VILAKSHAN THA JO AAJ BHI DUNIYA NAHI LE PA RAHI HAI UNKE PAAS SACCHA JEEVAN THA UNKE PAAS SACHA SATYA THA. UNKE PAAS EK AISA PARAMESHWAR THA JISNE AKASH DHARTI GALAXY S BANAAYE JITNE KITNE BHI HAI AUR USME JO KUCH BHI HAI NIRMAAN KIYA. MAANAV JAATI KO BHI USNE HI NIRMAAN KIYA. APNE SWARUP ME CHAR HAATH CHAR PAU NAHI. SECONDLY MANUSH PAAP KAR SAKTA HAI. HALAKHI YE LOG GOD NAHI HAI. ISKE LIYE HAM PRASANNNA HAI.

    THIRDLY AAPNE VACHAN KA ANUWAD GALAT KIYA HAI.
    2 SAMUEL 12 11 KO AAP ENGLISH ME PADH LIGIYE . ENGLISH AATA RAHENGA TO HI PADH LIGIYE NAHI TO HAM AAPKE LIYE BHASHANTAR KAR DEGE. THUS SAITH LORD BEHOLD I WILL RAISE UP EVIL AGAINST THEE OUT OF THINE OWN HOUSE AND I WILL TAKE THY WIVES BEFORE THINE EYES AND GIVE THEM UNTO THY NEIGHBOUR AND HE SHALL LIE WITH THY WIVES IN THE SIGHT OF THIS SUN. BIBLE KA HINDI ANUWAD ANUWAD KE BHI ANUWAD HAI. ISKE LIYE PURI KI PURI SACHAI SAALON SE SHUPPI RAHI HAI. HAMARA PARAMESWAR ITNA PAVITRA HAI KI AAP AUR HAM AUR KOI BHI US HAAD TAK SOCH NAHI SAKTA. BELIEVE IT OR NOT. EK BAAR JAB VO MANUSH BANJAR IS DUNIYA ME AAYA THA TAB USNE YESHU MASIH NAAM LIYA THA US WAKT BOLA THA JO BHI KOI SHREE PAR NAARI PAR YAHA TAK KE BURI NAZAR DALTA HAI VO USKE SAATH PAAP KAR CHUKA. AISE AISE MAHAAN BACHAN DELEWALA KHUD PARAMESHWAR HI HO SAKTA HAI.

    FOURTHLY AB APKE ISHWARON KE NAAM BAATAYE
    SHIVA YA KRISHNA YA BRAMHA YA VISHNU INDRA

    MERE PAAS INKI SAB HISTORY PADHI HAI. ITNE PAAPI TO SHAYAD KABHI KOI MANUSH KI HOGI .GUSHAN GROVER AUR PREM COPDA KE REAL DADA PARDADA SHIVA RAM KRISHNA VISHNU BRAMA MAHESH INDRA YAHI LOG HO SAKTE HAI.

    SACH BAATAYE APNE KABHI VED BHI PADHE HAI ?

    PRAJAPATI KHUD HI NIRMATA HAI AUR MAANAV JAATI KE PAAP SHAMA KE LIYE UDDHAR TARAN KE LIYE KHUD HI DAAN BANEGA KHUD KO ARPAN KARENGA KHUD HI DAATA KHUD HI DAAN

    PAR USKE LIYE JO BHI NIKASH HAI PAHELU HAI JO BHI RULES AND REGULATIONS HAI JO VED O ME LIKHIT HAI YAHA TAK KE

    HAM NAHI SOCH TE HAM NAHI DEKHTE KI KAHA KOI AISA DARSHNIK AISA KOI PAVITRA AISA KOI SAMARTHI AISA KOI SACCHA AISA KOI JEEVIT PARAMESWAR JIKE NIYAM ITNE NEK AUR SACCHE YESHU MASIH KE SIVAY

    YESHU MASIH HI SIRF PARAM ISHWAR HAI USKE ALAVA SAB SAITAN HAI.

    JAGO JAGO INSAAN .

    YESHU KO MARA AISA NAHI. O KHUD HAMARE LIYE MARE AUR TISRE DIN PUNARJIVEET HUA.

    PAAPO KI SHAMA AUR UDDHAR YESHU MASIH KE HI PAAS HAI, THIS IS TIME FOR GRACE COME AND ACEPT IT HO SAKTA HAI JUDGEMENT KA SAMAY KABHI BHI AA SAKTA HAI. PRABHU AAP SABHOKI AANKHO KO KHOL DE SACHAI KE LIYE GOD BLESS YOU ALL. AMEN.

    1. “PAAPO KI SHAMA AUR UDDHAR YESHU MASIH KE HI PAAS ”
      jo apani raksha n kar saka wo auron ka ky maf karega

      🙂

      1. BHAI SAHAB APNE KHUD SE HI NAHI SAMAZ NE KA VRAT LEKE RAKHA HAI TO AAP KI KOI BHI MADHAT KABHI KOI KAR NAHI SAKTA.KOI NAHI. APKO SHAYAD MALUM NAHI HAI.PARAM ISHWAR JAB ISA MASIH BAN KE IS DUNIYA ME AAYE. TAB VO MAANAV JAATI KE PAAPO KI SHAMA KE LIYE AYE THEA. MAANAV JAATI KE UDDHAR TARAN KE LIYE AYE THEA. CHAIN BHAJI KE LIYE NAHI AYE THEA. PAVITRA SHASTRA BIBLE KAHETI ISA MASIH KE LIYE DEKHO VO JAGAT KE PAAP HARAN KARNEWALA PARAMESWAR KA MEMNA. AAP MUZE MAT KAHIYE USKA SWABHAV USKA NATURE KAISA HOTA HAI PURE DHARTIPAR VO SABSE NAMRA HUMBLE PRANI HOTA HAI. USNE ISI KIRDAAR KO ISKE LIYE LIYA TA KI BAAT SPASTATASE SAMAZ ME AYE. ISSE KYA FAYDA YADDI O AKE KAHETA SAB MERI BAAT SOONO. NAHI TO MAI IS SHANN APKO BHASMA KAR DOONGA.HALAKI VAHI SATYA THA, MARG THA JEEVAN THA.

        US DUNIYA ME IS DUNIYA ME AUR ANEWALE DUNIYA ME AISA KOI BHI NAHI THA NAHI HAI AUR KABHI NAHI HOGA JO USKO MAR DE MAUT DE.

        BIBLE KAHETI HAI KHUD USNE APNI JAAN DI KISINE LI NAHI. USNE APNE KATHAN KE ANUSAR KHUD SALIBHI MAUT SAHI . AUR TISRE DIN APNE BACHAN KE ANUSAR
        JINDA HUA.
        SAB BADE BADE AYE THEA CHALE GAYE MITTI ME. JO MITTI ME GAYE VO MITTI KE TARAF RAH DIKHAYENGE.
        SIRF EK HI KABAR KHALI HAI. GOD BLESS YOU ALL.

        1. मेरा भी कथन यही है कि ईसा जब खुद को न बचा सकता तो औरों के लिए क्या करेगा

          और यहां भी तो उसमें दोष आता है कि उसे यहां आना पड़ा और द्वखिये कितना कमजोर था जिनके पाप क्षमा के लिए आया उन्होंने ही उसे निपटा दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *